My Cart :

0 item(s) - Rs. 0.00
You have no items in your shopping cart.

0

My Cart :

0 item(s) - Rs. 0.00
You have no items in your shopping cart.

0

More Views

Goyal Brothers Bal Bhasha Bharti 3

Availability: In stock

Regular Price: Rs. 255.00

Special Price Rs. 245.00

You SAVE 3.92%

Quick Overview

इस शृंखला का भाषायी स्तर अपेक्षाकृत सरल रखा गया है, ताकि हिंदीभाषी क्षेत्रें के छात्रें के साथ-साथ अहिंदीभाषी क्षेत्र के छात्र भी लाभान्वित हो सकें। ‘बाल भाषा भारती’ पाठ्यपुस्तक शंृखला केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) नई दिल्ली, इंडियन सार्टिि-फकेट ऑ-फ सेकेंडरी एज्युकेशन एक्जामिनेशन (ICSE) एवं अन्य राज्य शिक्षाबोर्डों की संस्तुतियों के अनुरूप तैयार की गई है।
VN Bhardwaj
Goyal Brothers Prakashan
OR

Details

इस  शृंखला का भाषायी स्तर अपेक्षाकृत सरल रखा गया है, ताकि हिंदीभाषी क्षेत्रें के छात्रें के साथ-साथ अहिंदीभाषी क्षेत्र के छात्र भी लाभान्वित हो सकें। ‘बाल भाषा भारती’ पाठ्यपुस्तक  शंृखला केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) नई दिल्ली, इंडियन सार्टिि-फकेट ऑ-फ सेकेंडरी एज्युकेशन एक्जामिनेशन (ICSE) एवं अन्य राज्य शिक्षाबोर्डों  की संस्तुतियों के अनुरूप तैयार की गई है।

बाल भाषा भारती पाठ्यपुस्तक  शंृखला सी-सी-ई- (CCE) पद्धति के सभी मापदंडों को पूरा करती है। इसकेपाठांत अभ्यास भाषा सीखने के चारों कौशल-सुनना, बोलना, पढ़ना तथा लिखना-की पूर्ति करते हैं। संकलनात्मकमूल्यांकन के अंतर्गत लिखित प्रश्न दिए गए हैं, जिनमें कविता की अधूरी पंक्तियों पूरी करना, व्याकरण-ज्ञान, लेखनअभ्यास, मूल्यपरक प्रश्न आदि दिए गए हैं। रचनात्मक मूल्यांकन के अंतर्गत पढ़िए-समझिए, सही-गलत वाक्यों कीपहचान, संकेतों के आधार पर अनुच्छेद-आत्मकथा लेखन आदि दिए गए हैं।

उपर्युक्त पुस्तक शृंखला की पाठ्य पुस्तकों की विशेषताएँ इस प्रकार हैं-

  • बच्चों की उम्र एवं बाल मनोविज्ञान के अनुरूप पाठों एवं अभ्यासों की सरलतम प्रस्तुति।
  • बाल भाषा भारती पाठ्य पुस्तक  शृंखला में जीवन-मूल्यों और नैतिक मूल्यों की प्रस्तुति पारंपरिकउपदेशात्मक शैली से हटकर विविध विधाओं में रोचक ढंग से की गई है।
  • हिंदी साहित्य की सभी विधाओं-कविता, कहानी, चित्रकथा, एकांकी, जीवनी, लेख, निबंध, संस्मरण,प्रेरक प्रसंग, पत्र, डायरी, वार्तालाप आदि पाठों-के सुव्यवस्थित योजना-क्रम में बच्चों के सर्वांगीण विकासको ध्यान में रखा गया है।
  • कविता-पाठ, समूह-गान, संवादात्मक लेख तथा एकांकी इत्यादि द्वारा बच्चों की मौखिक अभिव्यक्तिमें व्यापक रूप से क्रमिक सुधार लाया जा सकता है। साथ ही उनकी आंतरिक प्रतिभा-गायन, वाचन अथवाअभिनय कला-भी विकसित हो सकेगी।
  • प्रस्तुत शृंखला की सुव्यवस्थित पाठ-योजना में देश-प्रेम, राष्ट्रीय एकता, साहस, वीरता, त्याग-बलिदानआदि जीवन-मूल्यों को उभारने वाले पाठ व प्रेरक प्रसंग सम्मिलित हैं, जो हमारे देश के गौरवपूर्ण अतीत काज्ञान कराते हैं एवं बच्चों में स्वाभिमान की भावना जागृत करते हैं।
  • शब्द-सीढ़ी, बूझो तो जानें, इसे भी जानो, हँसो-हँसाओ, चित्रंकन, रंग भरो इत्यादि विविध क्रियाकलापोंद्वारा इनमें बहुत ही मनोरंजक ढंग से बच्चों को अपनी प्रतिभा निखारने का भरपूर अवसर दिया गया है।
  • पाठ्य सामग्री के रोचक प्रस्तुतीकरण से एवं पाठ के अंत में दिए गए विविध अभ्यासों के द्वारा बच्चे स्वयं अपनीसूझ-बूझ का प्रयोग करते हुए क्रमिक ढंग से पद-मिलान, रिक्तस्थान-पूर्ति इत्यादि कर सकेंगे।

Additional Information

HSN Code 4901
Author VN Bhardwaj
Language Hindi
Board : K12 CBSE Board (NCERT), ICSE/ISC Board, State Board
School Books : Categories Text Books
Subject : School Books Hindi
Standard/Class/Year Class 3
Binding Paperback
Publisher Goyal Brothers Prakashan
SKU SBKGOYAL3657
ISBN / Product Code 9788183893657
Discount 5 - 10%

Write Your Own Review

You're reviewing: Goyal Brothers Bal Bhasha Bharti 3

How do you rate this product? *

  1 star 2 stars 3 stars 4 stars 5 stars
Price
Quality

You may also be interested in the following product(s)