Dear Customers, Due to heavy rush of orders, and lockdown restrictions, we have stopped taking new orders at the moment. We will be back soon!

My Cart :

0 item(s) - Rs. 0.00
You have no items in your shopping cart.

0

My Cart :

0 item(s) - Rs. 0.00
You have no items in your shopping cart.

0

More Views

Gita Press Sankshipta Braham Vaivarta Puran (Code 631)

Availability: In stock

Rs. 230.00

Inclusive of all taxes

Quick Overview

इस पुराण में चार खण्ड हैं। ब्रह्मखण्ड, प्रकृतिखण्ड, श्रीकृष्णजन्मखण्ड और गणेशखण्ड। इसमें भगवान् श्रीकृष्ण की लीलाओं का विस्तृत वर्णन, श्रीराधा की गोलोक-लीला तथा अवतार-लीला का सुन्दर विवेचन, विभिन्न देवताओं की महिमा एवं एकरूपता और उनकी साधना-उपासना का सुन्दर निरूपण किया गया है।
Gita Press
OR

Details

इस पुराण में चार खण्ड हैं। ब्रह्मखण्ड, प्रकृतिखण्ड, श्रीकृष्णजन्मखण्ड और गणेशखण्ड। इसमें भगवान् श्रीकृष्ण की लीलाओं का विस्तृत वर्णन, श्रीराधा की गोलोक-लीला तथा अवतार-लीला का सुन्दर विवेचन, विभिन्न देवताओं की महिमा एवं एकरूपता और उनकी साधना-उपासना का सुन्दर निरूपण किया गया है।

Size- 19.0 x 28.0 

Additional Information

HSN Code 4901
Language Hindi
Pages 800
Binding Paperback
Publisher Gita Press
Devotional & Spiritual : Hinduism Purans, Lord Bramha
SKU DASGITA631
ISBN / Product Code CODE-631
Country of Manufacture India

Write Your Own Review

You're reviewing: Gita Press Sankshipta Braham Vaivarta Puran (Code 631)

How do you rate this product? *

  1 star 2 stars 3 stars 4 stars 5 stars
Quality
Price